अशोक जमनानी के छायाचित्र-1 - अपनी माटी 'ISSN 2322-0724 Apni Maati'

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित ई-पत्रिका

नवीनतम रचना

अशोक जमनानी के छायाचित्र-1



बूढी डायरी, व्यास गादी, को अहम् नामक तीन उपन्यास लिखने बाद अभी मध्य प्रदेश सिंधी अकादमी के लिए सिंधी कविताओं पर काम करने वाले अशोक जमनानी युवा संस्कृतिकर्मी ,उनका सपर्क सूत्र 09425310588 हैं.स्पिक मैके आन्दोलन से बरसों से जुड़े रहकर होशंगाबाद में रहते हुए देश भर के लिए रचनात्मक काम कर रहे हैं.वे फिलहाल नर्मदा नदी से जुड़े शोध कार्य के ज़रिये एक ओर उपन्यास की तैयारी कर रहे हैं.उनके लिए छायाचित्र आपको दिखाने हेतु पोस्ट कर रहे हैं,.उनका ई-मेल पता है-
asshok_jamnani@hotmail.com

3 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर ब्लाग है लेकिन तीखे पीले रंग की पृष्ठभूमि आँखों को चुभती है इसे हलका नहीं कर सकते?

    उत्तर देंहटाएं
  2. Dinesh Ji Ki openion par Color theme change kar di hai.Thanks fpor suggestion.

    उत्तर देंहटाएं

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here