राजस्थान का प्रशासनिक ढांचा - अपनी माटी Apni Maati

India's Leading Hindi E-Magazine भारत की प्रसिद्द साहित्यिक ई-पत्रिका ('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

राजस्थान का प्रशासनिक ढांचा

संभाग 7
जिले 33
उपखण्ड 188
जिला परिषद 33
नगर निकाय (दिसम्बर, 09 के अंत में) कुल 184
(नगर निगम 5, नगर परिषद 13 एवं नगरपालिकाऐं 166)
तहसील 241
नगर (वर्ष 2001 के अनुसार) 222
पंचायत समितियां (दिसम्बर 2009 के अनुसार) 249
ग्राम पंचायत (दिसम्बर 2009 के अनुसार) 9 हजार 168
ग्राम (जनगणना 2001 के अनुसार) 41 हजार 353
राजस्व गांव (2001 की जनगणना के अनुसार) 39 हजार 810
आबाद गांव (2001 की जनगणना के अनुसार) 39 हजार 753
विधानसभा सदस्य 200
लोकसभा सदस्य 25
राज्यसभा सदस्य 10
राज्यसभा में मनोनीत सदस्य 1
जिला प्रमुख 32
प्रधान 237
राज्य की अर्थ व्यवस्था
ग्यारहवी पंचवर्षीय योजना (2007-2012)
का आकार
71,732.00 करोड रूपये øप्रमुख प्राथमिकता- ऊर्जा
(35.70 प्रतिशत) एवं सामाजिक एवं सामुदायिक सेवाऐं
(27.49 प्रतिशत)}
वार्षिक योजना (2009-2010) का आकार 18634.80 करोड रूपये øप्रमुख प्राथमिकता- ऊर्जा
(41.08 प्रतिशत) एवं सामाजिक एवं सामुदायिक सेवाऐं
(32.22 प्रतिशत)}
वर्ष 2008-09 में सकल घरेलू उत्पाद
(स्थिर कीमतों 1999-2000 पर आधारित)
1,32,904.00 करोड (अनुमानित)
वर्ष 2008-09 में सकल घरेलू उत्पाद
(प्रचलित कीमतों पर आधारित)
1,91,990.00 करोड (अनुमानित)
सकल घरेलू उत्पाद में कृषि एवं सहायक
गतिविधियों का योगदान
24 से 30 प्रतिशत
2008-09 में प्रति व्यक्ति आय
(स्थिर कीमतों 1999-2000 पर आधारित)
18010 (अनुमानित)
2008-09 में प्रति व्यक्ति आय
(प्रचलित कीमतों पर आधारित)
25654 (अनुमानित)
औद्यौगिक विकास केन्द्र 8
औद्यौगिक लघु विकास केन्द्र 9 (जिनमें से 3 का कार्य प्रगति पर है)
सूचना प्रोद्यौगिकी केन्द्र 4 øसीतापुरा (जयपुर), जोधपुर, कोटा एवं उदयपुर}
. 3 .
कुल बैंक शाखाऐं (मार्च, 2008 तक) 3853
क्षेत्रिय ग्रामीण बैंक 1032
स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया की शाखाऐं 2376
अर्न्राष्ट्रीय बैंक शाखाऐं 5
अन्य अनुसूचित व्यापारीक बैंक की शाखाऐं 440
राज्य में उचित मूल्य की अधिकृत दुकानें 22991
ग्रामीण क्षेत्र में 17693
शहरी क्षेत्र में 5298
राज्य में न्यूनतम वेतन दर (1 मार्च, 08 से ) कुशल श्रमिक 115 प्रतिदिन
अर्द्ध कुशल श्रमिक 107 प्रतिदिन
अकुशल श्रमिक 100 प्रतिदिन
राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी योजना (एन.आर.ई.जी.एस.)
राज्य में योजना लागू- प्रथम चरण में दिनांक 2.2.06 से- राज्य के 6 जिलों में (बांसवाडा,
डूंगरपुर, झालावाड, करौली, सिरोही एवं उदयपुर में
लागू)
द्वितीय चरण में दिनांक 2.5.07 से- राज्य के अन्य 6 जिलों में
(बाडमेर, चित्तौडगढ, जैसलमेर, जालौर, सवाईमाधोपुर
एवं टोंक में लागू)
तृतीय चरण में दिनांक 1.4.08 से- राज्य के शेष रहे सभी जिलों में
लागू।
व्यय राशि 2008-09 में- 6175.55 करोड रूपये।
2009-10 में- 4743.80 करोड रूपये (15 दिसम्बर, 09 तक)
मानव दिवस 2008-09 में- 4829.38 लाख
2009-10 में- 3843.25 लाख (15 दिसम्बर, 09 तक)
जारी किये गये जॉब कार्डो की संख्या 2008-09 में- 84.69 लाख
2009-10 में- 88.32 लाख (15 दिसम्बर, 09 तक)
कार्य पर नियोजित परिवारों की संख्या 2008-09 में- 63.59 लाख
2009-10 में- 59.30 लाख (15 दिसम्बर, 09 तक)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here