Latest Article :
Home » , , , , , » ''विद्यार्थियों के लिए संगीत ज्यादा जरूरी'': पंडित तरूण भट्टाचार्य

''विद्यार्थियों के लिए संगीत ज्यादा जरूरी'': पंडित तरूण भट्टाचार्य

Written By ''अपनी माटी'' वेबपत्रिका सम्पादन मंडल on शनिवार, अगस्त 28, 2010 | शनिवार, अगस्त 28, 2010

चित्तौड़गढ़ 28 अगस्त। ‘‘विद्यार्थियों के लिए सरकार को खासतौर पर शिक्षा व्यवस्था में एक बड़ा जरूरी परिवर्तन करते हुए संगीत जैसे विषय को अनिवार्य रूप से लागू करना चाहिये, जिसके जरिये कोई भी बालक सबसे पहले एक अच्छा इन्सान बन पाए। इस सन्दर्भ में केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा हमारी वैश्विक विरासत के प्रति बच्चों को संवेदनशील बनाने के लिए हाल ही में किया गया बदलाव अच्छा है। ’’

उक्त विचार देश के ख्यातनाम संतुर वादक पंडित तरूण भट्टाचार्य ने इन दिनों स्पिक मैके द्वारा आयोजित विरासत-2010 के एक कार्यक्रम में व्यक्त किये। 28 अगस्त प्रातः 8ः30 बजे जिंक नगर में इम्पीरियल क्लब और हिन्द जिंक स्कूल के संयुक्त प्रायोजन में हुए एक कार्यक्रम में पंडित तरूण भट्टाचार्य के संतुर वादन अभिजीत बनर्जी के तबला वादन से विद्यार्थी और आमंत्रित संगीत रसीकों ने आनन्द लिया। दीप प्रज्ज्वलन और कलाकारों के परिचय की औपचारिकता के बाद पंडित भट्टाचार्य ने विद्यार्थियों को शास्त्रीय संगीत के मोटे परिचय के साथ संतुर जैसे कठिन और मुश्किल वाद्ययंत्र के इतिहास पर बातचीत की। 
कलाकारों का अभिनन्दन मजदूर संघ के वरिष्ठ सचिव घनश्यामसिंह राणावत, इम्पीरियल क्लब उपाध्यक्ष बी.एल. गारू, सांस्कृतिक सचिव देवेन्द्र जैन, खेल सचिव पी.एस. राठौड़, वरिष्ठ उपाध्यक्ष एस.के. मौड़ सहित स्कूल प्राचार्या गीता नायर ने माल्यार्पण कर किया। कार्यक्रम का संचालन इम्पीरियल क्लब के सचिव जी.एन.एस. चौहान ने किया। 
प्रस्तुति में मुख्य रूप से आलाप के बाद में  जपताल और तीव्र तीन ताल में निबद्ध जोड़ झाला को विद्यार्थियों ने लगातार सम्प पर तालियां बजाकर सराहा। बहुत लम्बे समय के बाद हुई संतुर वादन की यह प्रस्तुति विद्यार्थियों को संगीत की समझ नहीं होने के बावजूद पसंद आई, यही शास्त्रीय संगीत की खासियत है। प्रस्तुति में स्पिक मैके के समन्वयक जे.पी. भटनागर, अध्यक्ष बी.डी. कुमावत, सलाहकार दिलीप गांधी, प्रदीप दीक्षित, कोषाध्यक्ष डॉ. के.एस. कंग मौजूद थे। 
स्पिक मैके विरासत-2010 का अगले आयोजन में देश की प्रख्यात ऑडिसी नृत्यांगना कविता द्विवेदी अपना कार्यक्रम 29 अगस्त रविवार शाम साढ़े सात बजे खोर स्थित दी आदित्य बिड़ला पब्लिक स्कूल, विक्रम नगर में और 30 अगस्त सोमवार प्रातः 8ः30 बजे सेंती स्थित सैन्ट्रल अकादमी सीनियर सैकण्डरी स्कूल में देंगी। 

सूचना-स्पिक मैके ,चित्तौडगढ 
Share this article :

0 comments:

Speak up your mind

Tell us what you're thinking... !

'अपनी माटी' का 'किसान विशेषांक'


संस्थापक:माणिक

संस्थापक:माणिक
अपनी माटी ई-पत्रिका

सम्पादक:जितेन्द्र यादव

सम्पादक:जितेन्द्र यादव
अपनी माटी ई-पत्रिका

सह सम्पादक:सौरभ कुमार

सह सम्पादक:सौरभ कुमार
अपनी माटी ई-पत्रिका

यहाँ आपका स्वागत है



यहाँ क्लिक करके हमारी डाक नि:शुल्क पाएं

Donate Apni Maati

रचनाएं यहाँ खोजिएगा

हमारे पाठक साथी

सम्पादक मंडल

साहित्य-संस्कृति की त्रैमासिक ई-पत्रिका
'अपनी माटी'
========
प्रधान सम्पादक
सम्पादक
सह सम्पादक
तकनिकी प्रबंधक
========
संपर्क
apnimaati.com@gmail.com
========

ऑनलाइन

Donate Us

 
Template Design by Creating Website Published by Mas Template