आयोजन रपट:-माखन चोरी और मयूर नृत्य ने मन मोहा - अपनी माटी ई-पत्रिका

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

आयोजन रपट:-माखन चोरी और मयूर नृत्य ने मन मोहा

जयपुर घराने की नवोदित और प्रतिभाशाली नृत्यांगना सुश्री मोनिसा नायक ने चित्तौडगढ में दिए एक स्पिक मैके कार्यक्रम में नन्हे-नन्हे विद्यार्थियों को पाने नृत्य  कौशल  से मोह लिया.सोलह सितम्बर को सुबह दस बजे गांधी नगर के अलख स्टडीज़ संस्थान में हुई इस प्रस्तुति में मोनिसा ने अपने संगतकार तबला वादक इरशाद मुस्तफा और गायक विजय परिहार के सहयोग के बूते समा बाँध दिया. छोटे से हाल में दीपप्रज्ज्वलन की रस्म के बाद से आरम्भ प्रस्तुति में हस्त मुद्राओं के बाद गत का प्रभाव बहुत पसंद किया गया.यहाँ शुरुआती  भाग में शिव और गौरी की स्तुति से माहौल भक्तिपूर्ण बन पड़ा.जो जयपुर घराने की बहुत जानी पहचानी खासियत है.  ख़ास तौर पर पंडित राजेन्द्र गंगानी जी की याद दिलाता मयूर नृत्य भी यहाँ दिखाया गया.

इसी बीच कलाकार मोनिसा ने कथक नृत्य की अपनी अल्प मगर गहरे अनुभवों वाली यात्रा के बारे में कुछ जरुरी बातें सार्वजनिक की.प्रस्तुति के अंतिम भाग में उन्होंने प्रसिद्ध भाव में माखन चोरी के अंक का अभिनय किया जो  बालकों की पसंदीदा विषय सामग्री होने से देर तलक तालियों से सभागार गुंजता रहा.अभिनय में तन्मय होकर मां यशोदा और कन्हैया  के बीच के संवाद को सभी ने बहुत सराहा.कलाकारों का अभिन्दन संस्था प्रधान श्रीमती शशिजया भटनागर के साथ  स्पिक मैके वरिष्ठ सलाहकार एस.के.शर्मा,रमेश वाधवानी,अध्यक्ष बी.डी.कुमावत,शाखा समन्वयक जे.पी.भटनागर और डॉ. आर.एस.जोशी ने किया.कार्यक्रम की सूत्रधार आकाशवाणी कोम्पीयर सरिता जैन थी.
:-
सम्पादक 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here