आयोजन रपट:-आओ देखो सीखो कार्यक्रम का मोडल कलस्टर स्तरीय आयोजन संपन्न - अपनी माटी 'ISSN 2322-0724 Apni Maati'

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित ई-पत्रिका

नवीनतम रचना

आयोजन रपट:-आओ देखो सीखो कार्यक्रम का मोडल कलस्टर स्तरीय आयोजन संपन्न

 बालिकाओं का सर्वांगीण विकास - मिठ्ठू लाल जाट

अरनियापंथ के बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालय में मंगलवार को दिनभर हुए पांच प्रतियोगिताओं की योजनाओं और शिविरों में निर्मित सामग्री के प्रदर्शन  से पूरे रूप में एक बात साफ़ रूप से उभर कर आई है कि सरकारी शैक्षणिक  संस्थानों में  इन दिनों हो रहे ये आओ देखो सीखो कार्यक्रम के ज़रिए क्षेत्र के विद्यार्थी बहुत कुछ सीख रहे  हैं.इस तरह से बालिकाओं के  सर्वांगीण विकास के रास्ते ज़रूर खुलेंगे.समाज के हर नागरिक को इस कदम में साथ देना चाहिए,साथ ही बालिकाओं के हित चलाई जा रही योजनाओं के पूरे रूप से प्रचार प्रसार की अभी भी ज़रुरत अनुभव होती है.
ये विचार  विद्यालय में हुए एक मोडल कलस्टर स्तरीय आयोजन के उदघाटन  सत्र में बतौर मुख्य अथिति बोलते हुए जिला उप प्रमुख मिठ्ठू लाल जाट ने व्यक्त किए.मोडल क्लस्टर क्षेत्र अरनियापंथ के छ; विद्यालयों की साठ बालिकाओं ने प्रतिभागिता निभाई.शुरुआती सत्र की अध्यक्षता वरिष्ठ अध्यापक मांगी लाल मेनारिया ने की वहीं विशिष्ट अथिति  के रूप में विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष मुकेश चौधरी  मौजूद थे.कार्यक्रम का संचालन अध्यापिका दीपमाला गौड़ ने किया.एन.पी.जी.एल. योजना के तहत  हुए इस आयोजन  के प्रमुख बिन्दुओं  पर संस्था प्रधान और कार्यक्रम संयोजिका उषा वैष्णव ने प्रकाश डाला.

 सुबह ग्यारह बजे से शाम पांच बजे तक  हुई प्रतियोगिताओं में उच्च प्राथमिक और प्राथमिक स्तर पर क्रमश; श्रुतिलेख में गंगा डांगी,अनुषा साहू,गणितीय सवालों में संध्या पुरोहित,रेखा डांगी,अंगरेजी स्पेलिंग अन्त्याक्षरी में आरती वैष्णव,सुलेख में आशा वैष्णव सुशीला  डांगी और सामान्य ज्ञान में माया गवारिया,अफसाना बी. ने प्रथम स्थान हासिल किया.प्रतिभागी विद्यालयों में मायरा,नई आबादी शम्भूपुरा,बामणिया,अरनियापंथ,हडमाला,ठीकरिया शामिल थे.

समापन सत्र में विजेताओं को पुरूस्कार वितरण ब्लोक प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी हरिश्चंद्र गौड़,अतिरिक्त ब्लोक प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी सत्यनारायण ईनाणी, ग्राम सरपंच हरीशंकर सालवी ,आयोजन पर्यवेक्षक प्रधानाध्यापक देवीलाल सालवी ने किया. बतौर अथिति बोलते हुए गौड़ और ईनाणी ने शिक्षा जगत में लगातार रूप से आ रहे नवाचारों में बालिकाओं के प्रति सरकार की मंशा को जताते हुए अध्यापक वर्ग को इस काम को अतिरिक्त रूचि  से करने की अपील की. वहीं बालिकाओं के समाज और देश के प्रति बढ़ते दायित्व  और महत्व पर अपनी बात कही.इसी बीच अध्यापक माणिक ने बदलते परिवेश को केन्द्रित कर कविता पाठ किया.सरपंच सालवी ने भी अपने तरफ से विद्यालय  के उत्साहपूर्ण वातावरण की  सराहना करते  हुए पंचायत की तरफ से और भी सहयोग की हामी भरी. अंत में आभार संस्था प्रधान उषा वैष्णव ने ही जताया.
माणिक
अध्यापक ,अरनियापंथ मोडल क्लस्टर
राजकीय उच्च प्राथमिक बालिका विद्यालय,अरनियापंथ
तहसील और जिला चित्तौडगढ़,राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here