Latest Article :

श्रृद्धांजली:-महावीर जी नहीं रहे

Written By ''अपनी माटी'' वेबपत्रिका सम्पादन मंडल on बुधवार, नवंबर 17, 2010 | बुधवार, नवंबर 17, 2010

 अत्यंत दुःख के साथ आज यह समाचार यूं. के से भाई श्री दीपक ' मशाल जी ने सुबकते हुए बतलाया तो स्तब्ध रह गयी हूँ ! हमारे सभी के अपने आदरणीय दादा भाई , महावीर शर्मा जी चले गये .........ऐसा लगा मानों पुन: एक बार एक पिता तुल्य साया सर से उठ गया ! स्व. पण्डित नरेंद्र शर्मा , मेरे पूज्य पिता की तरह मैं उन्हें बहुत सम्मान से, श्रद्ग्धा व आदर से नमन करती हूँ 

पूजू पापाजी की तरह, स्नेह से सजजनता से हरेक इंसान के साथ वार्तालाप करते हुए, ग़ज़ल की बारीकियों को सिखलाते हुए और दीपावली, होली जैसे त्योहारों पर साग्रह नई रचनाओं को हम रचनाकारों से मंगवाकर अपने प्रतिष्ठित हिन्दी ब्लॉग पर सचित्र सजाते हुए, कर्मठ, मृदु स्वभाव लिए हमारी आदरणीय महावीर जी सतत हिन्दी भाषा की सेवा में निमग्न रहे - इस अपूरणीय क्षति से मन खिन्न है 
- कोइ ना रहा है ना रहेगा परंतु यादें हम अंतिम सांस तक , 
ह्रदय के स्मृति कोष में जोड़ कर जीयेंगें ...
उनके लिए जलाई ज्योति  को  , मैं , भरे मन से, प्रणाम कर रही हूँ ....
मेरी सच्चे मन से की हुई प्रार्थना प्रभू स्वीकार करें ,
 कि उस परम प्रकाश में उनकी आत्म ज्योति को शाश्वत स्थान दें ..........
सादर , स स्नेह, अश्रु पूरित अंजलि 
----------
असल सूचना जो मुझे प्राप्त हुई
Shri Mahavir Sharma
(1933-2010)

Katha UK announces with regret the sad demise of noted Ghazalkar, Story writer and journalist Shri Mahavir Sharma. Mahavir ji had been suffering from Colitis for some time. For the last two weeks he was in hospital. The end came at 01.30 hrs of Wednesday the 17 November 2010.

Mahavir Ji was extremely active with his blog

Senior Ghazal stalwart Shri Pran Sharma was also actively involved with the blog. Mahavir Ji provided a platform to majority of Hindi poets and ghazalkars settled outside India. His death has left Shri Pran Sharma a sad man who remembers Mahavir ji with fondness.
Deepak Mashal, a young poet from Belfast was crying profusely when he broke the news to me.
To check about the last rites of Mahavir ji, please contact his son Raj Sharma at his mobile: 07580250639.

Katha UK and its members pay homage to the departed soul.

Tejinder Sharma,
General Secretary – Katha UK,

Mob: 07868738403

 लावण्या 
(महावीर जी को ''अपनी माटी'' परिवार की तरफ से भी बहुत रूप में हार्दिक श्रृद्धांजली.ब्लॉग्गिंग जगत में उन्हें हमेशा याद किया जाएगा.लावण्या जी सूचना में हम तक पहुंचाने का आभार) 
Share this article :

0 comments:

Speak up your mind

Tell us what you're thinking... !

संस्थापक:माणिक

संस्थापक:माणिक
अपनी माटी ई-पत्रिका

सम्पादक:जितेन्द्र यादव

सम्पादक:जितेन्द्र यादव
अपनी माटी ई-पत्रिका

एक ज़रूरी ब्लॉग

एक ज़रूरी ब्लॉग
बसेड़ा की डायरी:माणिक

यहाँ आपका स्वागत है



ज्यादा पढ़ी गई रचना

यहाँ क्लिक करके हमारी डाक नि:शुल्क पाएं

Donate Apni Maati

रचनाएं यहाँ खोजिएगा

हमारे पाठक साथी

सम्पादक मंडल

साहित्य-संस्कृति की त्रैमासिक ई-पत्रिका
'अपनी माटी'
========
प्रधान सम्पादक
सम्पादक
सह सम्पादक
तकनिकी प्रबंधक
========
संपर्क
apnimaati.com@gmail.com
========

ऑनलाइन

Donate Us

 
Template Design by Creating Website Published by Mas Template