ब्यावर का बादशाह मेला,बुलाता है आपको - अपनी माटी ई-पत्रिका

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

ब्यावर का बादशाह मेला,बुलाता है आपको

राजस्थान में मेले बहुत लोकप्रिय आयोजन रहे हैं. यहाँ जिलेवार बहुत मेले तय हो चुके हैं. कुछ बरसों से जमे जमाए है तो कुछ नाम मात्र के लिए.राज्य की पहचान को ख़ास बनाए रखने की अपनी ओर से कोशिश करते इन मेलों में ये सूचना भी कुछ तरह का आमंत्रण देती है-सम्पादक .

शहर में बादशाह मेला 21 मार्च को आयोजित किया जाएगा। उप जिला मजिस्ट्रेट प्रियंका जोधावत ने मेला तैयारियों के संबंध में सोमवार को विभागीय अधिकारियों एवं समिति पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में होली व मेला अवसर पर कानून-व्यवस्था बनाए रखने पर चर्चा की गई। सफाई, जलापूर्ति, बिजली, फस्र्ट एड और आवागमन संबंधी इंतजाम पर निर्णय किए गए। तय किया गया कि मेलार्थियों के लिए अतिरिक्त बस परिचालन कराया जाएगा। मेले में मजबूत मंच व्यवस्था, आतिशबाजी, माकूल माइक इंतजाम आदि बिंदुओं पर भी चर्चा की गई। होली के लिए केवल अच्छी किस्म की लाल गुलाल का ही इस्तेमाल करने की हिदायत दी गई है।


बैठक में सिटी थाना प्रभारी भगवतसिंह राठौड़ ने बादशाह मेला के दौरान पुलिस की ओर से किए जाने वाले इंतजाम पर जानकारी दी। अग्रवाल समाज कार्यकारिणी सदस्य रमेश बंसल एवं बादशाह मेला समिति के सहसंयोजक नवीन कुमार गर्ग ने सांस्कृतिक एवं पर्यटन से जुड़े पहलुओं पर जानकारी दी। उप जिला मजिस्ट्रेट ने अनुरोध किया कि इस बार मेले के दौरान निकलने वाली बादशाह मेला सवारी गाड़ी व बीरबल नृत्य के दौरान बड़ी संख्या में महिला दर्शकों की मौजूदगी के मद्देनजर खास सुरक्षा इंतजाम किए जाने चाहिए। बैठक में स्थानीय मुख्य प्रबंधक आनंद चौधरी ने बताया कि पुष्कर व रूपनगढ़ से ब्यावर आने के लिए अतिरिक्त बसों का संचालन किया जाएगा।



बैठक में मेला समिति के संयोजक अमित बंसल, सह संयोजक नवीनकुमार गर्ग व सुनील जिंदल, अग्रवाल समाज के अध्यक्ष निर्मल बंसल व उपाध्यक्ष रामस्वरूप अग्रवाल, रमेश बंसल व अनिल सर्राफ ने अनेक सुझाव दिए। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here