लम्बी कविता 'पुरातत्ववेत्ता' के समीक्षा ग्रंथ का विमोचन - अपनी माटी

नवीनतम रचना

बुधवार, मार्च 16, 2011

लम्बी कविता 'पुरातत्ववेत्ता' के समीक्षा ग्रंथ का विमोचन

लम्बी कविता " पुरातत्ववेत्ता " पर मुम्बई की डॉ. विजया द्वारा लिखित समीक्षा ग्रंथ का विमोचन मुम्बई में 19 मार्च को श्री रामजी तिवारी की अध्यक्षता में श्री ज्ञानरंजन करेंगे , मुख्य अतिथि होंगे श्री लीलाधर मंडलोई तथा विशेष अतिथि सर्वश्री विजय कुमार , नरेश चन्द्रकर , बोधिसत्व , त्रिभुवन राय , रामप्रकाश त्रिवेदी तथा दामोदर खड़से । प्रो. मनोहर की ओर से आप सभी को आमंत्रण

सूचना;-
शरद कोकस 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here