गीत चतुर्वेदी का रचना पाठ भोपाल में होगा - अपनी माटी Apni Maati

Indian's Leading Hindi E-Magazine भारत में हिंदी की प्रसिद्द ई-पत्रिका ('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

गीत चतुर्वेदी का रचना पाठ भोपाल में होगा

ललित कलाओं के लिए समर्पित 'स्पंदन संस्था' की ओर से हिंदी के चर्चित युवा कवि कथाकार गीत चतुर्वेदी का रचना पाठ दिनांक 30 मई 2011 को स्वराज भवन,भोपाल में शाम 6 बजे आयोजित किया जायेगा! गीत चतुर्वेदी की अब तक कविता, कहानी, साक्षात्कार तथा अनुवाद की पाँच पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं! उनकी रचनाओं के अनुवाद देशी-विदेशी भाषाओँ में हो चुके है! गीत चतुर्वेदी को कई पुरस्कार प्राप्त हो चुके हैं! वर्तमान वे दैनिक भास्कर से संबध है! आप सभी सादर आमंत्रित है!उनसे संपर्क यहाँ
geetchaturvedi@gmail.com,geetchaturvedi@in.com.कर सकते हैं. वैसे उनके ब्लॉग के लिंक है.http://geetchaturvedi.blogspot.com/

----------------------------------------------------------

गीत चतुर्वेदी का एक परिचय 
  • 27 नवंबर 1977 को मुंबई में जन्म।
कविताएं पहल, तद्भव, उद्भावना कवितांक, वागर्थ, साक्षात्कार, पल-प्रतिपल, वसुधा, समकालीन भारतीय साहित्य, कथादेश, अन्यथा आदि पत्रिकाओं में प्रकाशित।  पहला कविता संग्रह 'आलाप में गिरह' 2010 में राजकमल प्रकाशन, नई दिल्‍ली से प्रकाशित.
संवाद प्रकाशन, मेरठ से दो किताबें प्रकाशित- नेरूदा के संस्मरणों व लेखों का अनुवाद `चिली के जंगलों से´ और `चार्ली चैपलिन की जीवनी´।
`मदर इंडिया´ कविता के लिए वर्ष 2007 का भारत भूषण अग्रवाल पुरस्कार।
पहल, नया ज्ञानोदय, तद्भव, प्रगतिशील वसुधा और अकार में  लंबी कहानियां `सावंत आंटी की लड़कियां´, `सौ किलो का सांप´, `साहिब है रंगरेज़´, 'गोमूत्र', 'सिमसिम' और 'पिंक स्लिप डैडी' प्रकाशित।


छह से ज़्यादा भाषाओं में कविताएं अनूदित.



सिनेमा, संगीत और विश्व कविता में गहरी दिलचस्पी। अनुवाद में मन रमता है। लोर्का, नेरूदा, यानिस रित्सोस, एडम ज़गायेव्स्की, अदूनिस, तुर्की युवा कवि आकग्यून आकोवा और इराक़ी कवयित्री दून्या मिख़ाइल आदि की कविताओं के अनुवाद किए हैं। इनके अलावा मराठी से हिंदी में भी कई अनुवाद।

दैनिक भास्कर, भोपाल में बतौर संपादक (मैग्ज़ीन्स)  कार्यरत।
संपर्क
दैनिक भास्कर,
6, द्वारका सदन, प्रेस कॉम्‍प्‍लेक्‍स,
एम पी नगर, भोपाल- 462 011 
मोबाइल : 9713 000 963
ई-मेल : geetchaturvedi@gmail.com


सयोंजक- 
उर्मिला शिरीष

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

मुलाक़ात विद माणिक


ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here