Latest Article :
Home » , , » 'अपनी माटी' वेबपत्रिका सम्पादन मंडल सलाहकार:शिक्षाविद डॉ. दुर्गा प्रसाद अग्रवाल

'अपनी माटी' वेबपत्रिका सम्पादन मंडल सलाहकार:शिक्षाविद डॉ. दुर्गा प्रसाद अग्रवाल

Written By 'अपनी माटी' मासिक ई-पत्रिका (www.ApniMaati.com) on शुक्रवार, जून 10, 2011 | शुक्रवार, जून 10, 2011


  • जन्म 24 नवम्बर, १९४५,  उदयपुर
  • शिक्षा एम ए;लब्ध स्वर्ण पदक.उदयपुर विश्वविद्यालय
  • पी.एच डी ;हिन्दी.मोहन लाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय, उदयपुर

सेवा- 7 जुलाईए 1967 से राजस्थान सरकार की कॉलेज शिक्षा सेवा मेंण् व्याख्याता,  उपाचार्य, प्राचार्य और निदेशालय ;अब आयुक्तालयद्ध कॉलेज शिक्षाए राजस्थानए जयपुर में तीन वर्ष संयुक्त निदेशक रहने के बाद 30 नवम्बरए 2003 को सेवा निवृत्त.हिन्दी कथा साहित्य की आलोचना में विशेष रुचिए साथ ही विविध सम.सामयिक विषयों पर भी नियमित लेखन देश व हिन्दी की लगभग सभी प्रमुख पत्र.पत्रिकाओं में प्रकाशित.

इण्टरनेट पर भी अनेक रचनाएं-अंग्रेज़ी से हिन्दी में खूब अनुवाद स्त्री विमर्श की पत्रिका 'मानुषी' के लिए अंग्रेज़ी से हिन्दी में विपुल अनुवाद, पूर्व विदेश मंत्री श्री नटवर सिंह की  संस्मरणात्मक पुस्तक का 'चहरे और चिट्ठियां ' शीर्षक से प्रकाशित अनुवाद प्रशंसित.अनेक सम्पादन भी-लगभग दस पुस्तकें प्रकाशित अनेक संकलनों में लेख आदि संकलित. अमरीका यात्रा के अनुभवों पर आधारित पुस्तक 'आंखन देखी'  खूब चर्चित, इस पुस्तक पर राजस्थान साहित्य अकादमी का कन्हैया लाल सहल पुरस्कार भी
  • समय.समय पर अखबारों में स्तम्भ लेखन
  • आकाशवाणी व दूरदर्शन से नियमित प्रसारण
  • साहित्य एवम जन संचार विषयक संगोष्ठियों, उपनिषदों, कार्यशालाओं आदि में नियमित सक्रिय सहभागिता
भरपूर अध्ययन के अतिरिक्त अध्यापन, सभी किस्म के साहित्य,शिक्षा, समाज,राजनीति,पर्यावरण, फिल्म, संगीत, नृत्य, फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, प्रसारण, सम्प्रेषण, संचार, टेक्नोलॉजी आदि में गहरी दिलचस्पी फिल्म और उससे संबद्ध विविध विधाओं पर प्रचुर लेखन

  • लगभग दस वर्ष तक सिरोही फिल्म सोसाइटी  का संचालन,
  • जयपुर इंटरनेशनल  फिल्म फेस्टिवल की ज्यूरी का सदस्य,  

सभी क्षेत्रों की नवीनतम गतिविधियोंए प्रवृत्तियों और प्रविधियों की जानकारी और उनके प्रयोग की गहरी उत्कण्ठा.चार बार विदेश यात्राएं.

सम्प्रति:- जयपुर में निवास और अपने मन का पढ़ना.लिखना, लगभग तीन वर्ष तक अंतर्जाल ;इण्टरनेट पर एक पत्रिका इंद्रधनुष इण्डिया  www.indradhanushindia.org का सम्पादन. अभी यह पत्रिका अपने स्वरूप परिवर्तन की प्रक्रिया  में है.इण्टरनेट पर ही जोग लिखी नाम से एक ब्लॉग भी.एक वर्ष से अधिक समय तक राजस्थान पत्रिका के नगर परिशिष्ट जस्ट जयपुर में नवीनतम किताबों पर वर्ल्ड ऑफ बुक्स नाम से एक साप्ताहिक कॉलम का लेखन. फिर यही कॉलम दो वर्ष से भी अधिक समय तक राजस्थान पत्रिका के रविवारीय परिशिष्ट में किताबों की दुनिया नाम से. 

सम्पर्क

ई-2/211, चित्रकूट, जयपुर- 302 021.  
   +91-141-2440782 ,+91-09829532504 
: dpagrawal24@gmail.com  
Share this article :

1 टिप्पणी:

  1. आपके संपादन मंडल से मिलकर अच्छा लग रहा है.. बहुत बढ़िया...

    उत्तर देंहटाएं

'अपनी माटी' का 'किसान विशेषांक'


संस्थापक:माणिक

संस्थापक:माणिक
अपनी माटी ई-पत्रिका

सम्पादक:जितेन्द्र यादव

सम्पादक:जितेन्द्र यादव
अपनी माटी ई-पत्रिका

सह सम्पादक:सौरभ कुमार

सह सम्पादक:सौरभ कुमार
अपनी माटी ई-पत्रिका

यहाँ आपका स्वागत है



यहाँ क्लिक करके हमारी डाक नि:शुल्क पाएं

Donate Apni Maati

रचनाएं यहाँ खोजिएगा

हमारे पाठक साथी

सम्पादक मंडल

साहित्य-संस्कृति की त्रैमासिक ई-पत्रिका
'अपनी माटी'
========
प्रधान सम्पादक
सम्पादक
सह सम्पादक
तकनिकी प्रबंधक
========
संपर्क
apnimaati.com@gmail.com
========

ऑनलाइन

Donate Us

 
Template Design by Creating Website Published by Mas Template