दिलीप गांधी की फादर डे पर एक तुकांत कविता - अपनी माटी (PEER REVIEWED JOURNAL )

नवीनतम रचना

सोमवार, जून 20, 2011

दिलीप गांधी की फादर डे पर एक तुकांत कविता





 योगदानकर्ता / रचनाकार का परिचय :-दिलीप गांधी,चित्तौड़ गढ़ के सृजनधर्मी कलाकार है जो आजीविका के तौर पर हिन्दुस्तान जिंक में अधिकारी पद पर कार्यरत हैं. यदा-कदा तुकांत कविता करते हैं.एकदम सरल और सहज व्यक्तित्व.नगर के मधुवन कोलोनी इलाके में रहते हैं.-dkgandhi1765@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here