फ़ज़ल इमाम मल्लिक को ‘राजीव गांधी एक्सीलेंस अवार्ड-2011' - अपनी माटी Apni Maati

Indian's Leading Hindi E-Magazine भारत में हिंदी की प्रसिद्द ई-पत्रिका ('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

फ़ज़ल इमाम मल्लिक को ‘राजीव गांधी एक्सीलेंस अवार्ड-2011'

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से प्रकाशित राष्ट्रीय हिंदी समाचार पत्रिका ‘सीमापुरी टाइम्स’ ने युवा साहित्यकार, स्तंभकार और पत्रकार फ़ज़ल इमाम मल्लिक को साहित्य व पत्रकारिता के क्षेत्र में उलेखनीय योगदान के लिए ‘राजीव गांधी एक्सीलेंस अवार्ड-२०११’ से नवाजा। सम्मान दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में आयोजित समारोह में केंद्रीय कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने दिया। सम्मान के तौर पर उन्हें एक स्मृति चिन्ह और सनद दिया गया। इस मौके पर कांग्रेस सांसद अनु टंडन भी मौजूद थीं। बिहार के शेख़पुरा जिले के चेवारा के निवासी फ़ज़ल इमाम मल्लिक दिली से प्रकाशित हिंदी दैनिक ‘जनसत्ता’ से जुड़े हैं। उन्होंने साहित्यिक पत्रिका ‘सनद’ और ‘ऋंखला’ का संपादन भी किया। इसके अलावा काव्य संग्रह ‘नवपल्लव’ और लघुकथा संग्रह ‘मुखौटों से परे’ का संपादन भी कर चुके हैं।

दूरदर्शन के उर्दू चैनल से उन पर एक ख़ास कार्यक्रम ‘सिपाही सहाफत के’ प्रसारित भी हुआ है। इससे पहले पिछले हफ्ते उन्हें दिल्ली में ही आयोजित एक समारोह में रोशनी दर्शन पत्रिका ने दस साल पूरे करने के मौके पर उन्हें ‘चित्रगुप्त सम्मान’ से नवाज चुकी है। साल पूरे करने के मौके पर उन्हें ‘चित्रगुप्त सम्मान’ से नवाज़ चुकी है।बतौर खेल पत्रकार जनसत्ता से जुड़े फ़ज़ल इमाम मल्लिक ने क्रिकेट और हाकी के मैचों को तो कवर किया दूसरे खेलों के अंतरराष्ट्रीय आयोजनों को भी कवर किया है। दूरदर्शन के राष्ट्रीय नेटवर्क के लिए फुटबाल, टेनिस, एथलेटिक्स, बास्केटबाल और फुटबाल के मैचों में बतौर कमेंटेटर भी मैचों का आंखो देखा हाल भी बयान किया है। राष्ट्रीय सहारा के उर्दू चैनल में बतौर खेल विशेषज्ञ भी जुड़े रहे हैं।
SocialTwist Tell-a-Friend

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

मुलाक़ात विद माणिक


ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here