Latest Article :

अब तो चेतो मानखा

Written By Manik Chittorgarh on मंगलवार, जुलाई 26, 2011 | मंगलवार, जुलाई 26, 2011

हिन्दुस्तान  की संस्कृति, नागरिक समाज तथा लोकतान्त्रिक व्यवस्था का अध्ययन करने पहुंचे अमेरिका की नोर्थ वेस्टर्न यूनिवरसिटी तथा न्यूयोर्क यूनिवरसिटी के विद्यार्थियों ने जब पर्यावरण, पानी आजीविका पर आयोजित सेमीनार में झीलों की स्थिति का वर्णन सुना तो वे सीधे झीलों में श्रमदान करने पहुंच गए।
          
         
हिदोनो विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों का यह दल विगत पन्द्रह दिनों से भारत भ्रमण पर है, शनिवार को डॉ. मोहनसिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट तथा फाउन्डेशन फोर सस्टेनेबल डवलपमेन्ट की ओर से आयोजित सेमिनार में इन युवा विद्यार्थियों ने भाग लिया। ट्रस्ट के सचिव नन्दकिशोर शर्मा ने विद्यार्थियों को उदयपुर में पर्यावरण आजीविका पर कार्य कर रही संस्थाओं में अवगत कराया।  प्रथम सत्र महाराणा ऑफ मेवाड़ चेरीटेबल फाउन्डेशन के तत्वाधान में सिटी पैलेस में आयोजित हुआ जिसमें फाउन्डेशन के सचिव भूपेन्द्र सिंह आहुुवा ने दल को मेवाड़ की परम्परागत जल व्यवस्था एवं झीलो के इतिहास से परिचय कराया।
         
विद्याभवन ऑडिटोरियम में आयोजित द्वितीय सत्र में ट्रस्ट के अध्यक्ष विजय सिंह मेहता ने दक्षिणी राजस्थान में अवसरों चुनौतियों पर प्रकाश डाला।सेठिया, एस पी डब्लू डी के डॉ. जगदीश पुरोहित तथा गांधी मानव कल्याण समिति को डॉ. पल्लवी ने दल को मेवाड़ में हरे रहे जंगलों कृषि भूमि के क्षरण तथा रोजगार के लिए व्यापक पलायन पर तथा आजीवीका पर प्रकश डाला। इन विशेषज्ञों ने महा नरेगा के तहत वन भूमि विकास के कार्यो को प्राथमिकता से करने पर सुझाव रखें।
          
झील संरक्षण समिति के डॉ. तेज राजदान एवं विद्याभवन पोलीटेक्निक के प्राचार्य अनिल मेहता ने दल को झीलों की पर्यावरण स्थिति, बढ़ते प्रदुषण, आयड़ नदी ग्रीन ब्रिज उपचार योजन के बारे बताया। राजदान तथा मेहता से झीलों की स्थिति जानने के बाद दल ने निश्चय किया कि वे स्वयं श्रमदान कर झीलों में से गन्दगी निकालेगें।
            पर्यावरणविद एवं गांधीवादी किशोर संत एफ एस के यश सेव मिस्त्री ने सरोद वादन कर भारतीय संगीत पर जानकारी दी।  रविवार प्रातः दल  ने ट्रस्ट, झील संरक्षण समिति, चांदपोल नागरिक समिति, झील हितौषी नागरिक मंच, एफ एस डी के तत्वाधान में पिछौला में श्रमदान कर लगभग पन्द्रह क्विन्टल कचरे को हटाया। इस अवसर पर तेजशंकर पालीवाल, हाजी सरदार, मोहम्मद, नूर मोहम्मद, दामोदर, कमलेश, डॉ. तेज राजंदान, नन्दकिशोर शर्मा, अनिल मेहता, रोमा भारद्वाज सहित नगर के नागरिकों ने विद्यार्थियों के साथ श्रमदान किया। ,




 योगदानकर्ता / रचनाकार का परिचय :-




नंद किशोर शर्मा
मोहन सिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट सचिव
संपर्क सूत्र :-0294&3294658, 2410110 ,
msmmtrust@gmail.com,

SocialTwist Tell-a-Friend
Share this article :

0 comments:

Speak up your mind

Tell us what you're thinking... !

'अपनी माटी' का 'किसान विशेषांक'


संस्थापक:माणिक

संस्थापक:माणिक
अपनी माटी ई-पत्रिका

सम्पादक:जितेन्द्र यादव

सम्पादक:जितेन्द्र यादव
अपनी माटी ई-पत्रिका

सह सम्पादक:सौरभ कुमार

सह सम्पादक:सौरभ कुमार
अपनी माटी ई-पत्रिका

यहाँ आपका स्वागत है



यहाँ क्लिक करके हमारी डाक नि:शुल्क पाएं

Donate Apni Maati

रचनाएं यहाँ खोजिएगा

हमारे पाठक साथी

सम्पादक मंडल

साहित्य-संस्कृति की त्रैमासिक ई-पत्रिका
'अपनी माटी'
========
प्रधान सम्पादक
सम्पादक
सह सम्पादक
तकनिकी प्रबंधक
========
संपर्क
apnimaati.com@gmail.com
========

ऑनलाइन

Donate Us

 
Template Design by Creating Website Published by Mas Template