'वसुधा' का नया अंक और नया पता - अपनी माटी ई-पत्रिका

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

'वसुधा' का नया अंक और नया पता


'अपनी माटी' वेबपत्रिका के पाठक साथियों को यथासमय कुछ चुनिन्दा पत्रिकाओं के बारे में समाचार उपलब्ध कराने का हमेशा से ही मन रहा है.यहाँ आज भोपाल से प्रकाशित चिरपरिचित और लोकप्रीय पत्रिका 'वसुधा' के अंक प्राप्ति हेतु यहाँ निचे लिखे पते पर लिखें,अब कमला प्रसाद जी के चले जाने पर पते में बदलाव है और यह कृपया सूचना सभी मित्रों को भी पहुंचाएं.....

(वैसे वसुधा का ब्लॉग भी है जिसका लिंक है.ये अलग बात है कि इसे बहुत लम्बे समय से अपडेट नहीं किया जा रहा है.खैर......सम्पादक).

सम्पादक 
प्रगतिशील वसुधा
मायाराम सुरजन स्मृति भवन
शास्त्री नागर, पी एंड ती चौराहा 
भोपाल- 462003
सम्पर्क-09425392954
एक प्रति-50 वार्षिक व्यक्तिगत-250 वार्षिक संस्थागत -450



 योगदानकर्ता / रचनाकार का परिचय :-

पल्लव
युवा आलोचक और 'बनास' पत्रिका के सम्पादक
सहायक आचार्य,हिंदी विभाग,हिन्दू कोलेज,दिल्ली
pallavkidak@gmail.com 
SocialTwist Tell-a-Friend

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here