लेखक सम्मेलन में भागीदारी हेतु हिम्मत सेठ का आमंत्रण पत्र - अपनी माटी 'ISSN 2322-0724 Apni Maati'

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित ई-पत्रिका

नवीनतम रचना

लेखक सम्मेलन में भागीदारी हेतु हिम्मत सेठ का आमंत्रण पत्र


विषय:  ‘‘हाशिये के लोग: हाशिये की संस्कृति’’ 
आदरणीय महोदय,

पिछले बीस वर्षों से महावीर समता संदेश पाक्षिक का प्रकाशन नियमित रूप से हो रहा है। यह समाचार पत्र केवल अखबार ही नहीं वरन् ग्रामीण आदिवासी, दलित महिला और बच्चों के जीवन को बेहतर बनाने के संघर्ष मंे प्रत्यक्ष हस्तक्षेप है। इसी क्रम में हम समाज के विभिन्न वर्गों में समाज शिक्षा, शिक्षा का अधिकार, मुस्लिम समाज और शिक्षा, रोजगार के अवसर, जाति तोड़ो, गैर बराबरी, धर्मनिरपेक्षता, बाल-विवाह और भू्रण हत्याओं जैसे मुद्दो पर विशेष चर्चा, गोष्ठियां व सम्मेलन आयोजित करके समाज में जन जागृति करने का प्रयास करते रहे है। इस क्रम में हमने अब तक 11 राष्ट्रीय समता लेखक सम्मेलनों का सफल आयोजन किया है। जिसमें साहित्यकारों, लेखकों व कवियों के साथ-साथ समाजकर्मी, विद्यार्थी, युवजन व महिलाओं ने भी बड़ी संख्या में भाग लिया है। इन सम्मेलनों विशेष बात यह है कि इनका समापन समारोह का आयोजन किसी दूरस्त गांव में ही किया जाता है। 

इन सम्मेलनों में देश के जाने-माने साहित्यकार डॉ. रत्नाकर पाण्डे (पूर्व सांसद), हंस मासिक के सम्पादक राजेन्द्र यादव, प्रसिद्ध साहित्यकार प्रो. शिवकुमार मिश्र, प्रो. लालबहादूर वर्मा, प्रो. संतोष चौबे, पूर्व सांसद सुरेन्द्र मोहन, पूर्व सांसद बृजभूषण तिवारी, प्रसिद्ध समाजवादी रजनीकान्त वर्मा, लेखक सुरेश पण्डित, डॉ. रामशरण जोशी, प्रसिद्ध समाजकर्मी अजगरअली इंजीनियर, जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति एम.एस. अगवानी, अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय वर्धा के कुलपति एवं साहित्यकार विभूति नारायण राय, साहित्यकार एवं कवि आर. के. शर्मा (उदभ्रान्त), कहानीकार स्वयंप्रकाश, गोपाल शर्मा ‘सहर’ प्रसिद्ध साहित्यकार कमलाप्रसाद, राजस्थान साहित्य अकादमी के अध्यक्ष वेद व्यास, युद्धरत आमआदमी के सम्पादक रमणिक गुप्ता, मजदूर नेता पी. चिदम्बरम्, पूर्व विधायक एवं किसान नेता डॉ. सुनीलम् व रघु ठाकुर, वयोवृद्ध कवि एवं साहित्यकार नन्द चतुर्वेदी, पत्रकार कुमार प्रशान्त, पत्रकार प्रभाष जोशी जैसे कई जानी मानी हस्तियां इन सम्मेलनों में भाग लेकर सम्मेलन का गौरव बढाया है।

महोदय जी इस वर्ष 2012 की 27 से 29 जनवरी को बाहरवां राष्ट्रीय समता लेखक सम्मेलन का आयोजन प्रस्तावित है। इसमें भाग लेने हेतु डॉ. रत्नाकर पाण्डे ने अपनी स्वीकृति दे दी है।महावीर समता संदेश, राजस्थान साहित्य अकादमी उदयपुर, भारतीय सांस्कृतिक परिषद भारत सरकार नई दिल्ली, ज.रा.ना. राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय अलर्ट संस्थान, कासा संस्थान व डॉ. मोहनसिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट उदयपुर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय 12 राष्ट्रीय समता लेखक सम्मेलन की तैयारियां जोरो से चल रही है।

महावीर समता संदेश के प्रधान सम्पादक ने बताया कि इस सम्मेलन में भाग लेने हेतु कई साहित्यकारों ने स्वीकृति दे दी है। वरिष्ठ साहित्यकार पूर्व सांसद डॉ. रत्नाकर पाण्डे, पूर्व कपड़ा मंत्री एवं सांसद हुकमदेव, नारायण यादव, राजस्थान साहित्य अकादमी के अध्यक्ष श्री वेद व्यास, राजस्थान ब्रजभाषा अकादमी के अध्यक्ष साहित्यकार प्रो. सुरेन्द्र उपाध्याय साहित्यकार कवि एवं पूर्व प्रवर निदेशक दूरदर्शन श्री आर.के. शर्मा (उदभ्रान्त) डॉ. शान्तिलाल कोठारी नागपुर, डॉ. ब्रजेश लखनऊ, भारतीय सांस्कृतिक सम्बन्ध परिषद दिल्ली की गंगनाचल पत्रिका के सम्पादक डॉ. अजय गुप्ता, युद्धरत आम आदमी की सम्पादक एवं पूर्व विधायक श्रीमती रमणिका गुप्ता दिल्ली, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष आजम खां जयपुर, पूर्व सांसद भवानी शंकर होता सम्बलपुर उड़ीसा, पूर्व सांसद थानसिंह, वरिष्ठ साहित्यकार एवं समाजकर्मी सुरेश पण्डित अलवर, राजाराम भादू जयपुर, छत्तीसगढ़ मड़ई, के सम्पादक कालीचरण यादव विलासपुर, राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर के प्रो. राजीव गुप्ता, बरनाला पंजाब से आर.के. यादव ने अपनी स्वीकृति दे दी है।

 सम्मेलन का उद्घाटन समारोह27 जनवरी 2012 को ज.रा.ना. राजस्थान विद्यापीठ विश्वविद्यालय में होगा तथा हांसिये की सस्कृति कार्यक्रम मोहनसिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट में होगा। दूसरे दिन के कार्यक्रम कांसा संस्थान में सम्पन्न होगे।इसके साथ ही सम्मेलन का समापन समारोह 29 जनवरी 2012 गोगुन्दा पंचायत समिति के चाटीयां खेड़ी गांव के अलर्ट संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में सम्मपन होगा।

 इस सम्मेलन का विषय ‘‘हाशिये के लोग: हाशिये की संस्कृति’’ रखा गया है। चूंकि आप और आपकी संस्थान लोक सांस्कृतिक मुद्दों पर काम कर रही है, इसलिए हम चाहेगें की इस सम्मेलन में आप अतिथि के रूप में पधारकर हमें गौरवान्वित करें। आशा ही नहीं, पूरा विश्वास है कि आप हमारे प्रस्ताव पर विचार कर सकारात्मक उत्तर देंगे।

योगदानकर्ता / रचनाकार का परिचय :-

                                                    हिम्मत सेठ 

वरिष्ठ साथी पत्रकार,
उदयपुर से प्रकाशित 'समता सन्देश' 
पत्र के सम्पादक और 
समतावादी लेखक 

SocialTwist Tell-a-Friend

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here