कवि होना और कवि मान लेना अलग अलग बातें हैं -डॉ सत्यनारायण व्यास - अपनी माटी 'ISSN 2322-0724 Apni Maati'

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित ई-पत्रिका

नवीनतम रचना

कवि होना और कवि मान लेना अलग अलग बातें हैं -डॉ सत्यनारायण व्यास

(ये ऑडियो एक संगोष्ठी का है.जी संभावना संस्थान द्वारा चित्तौड़ में आयोजित किया गया है.यहाँ डॉ.सत्यनारायण व्यास द्वारा कविता के बारे में कहे उनके विचार और उनकी कविता सुनी जा सकेगी.के नई परिभाषाएं यहाँ उपजेगी ऐसा हमारा मानना है-सम्पादक )

उनके व्याख्यान के सूत्र 
  1. कवि होना और कवि मान लेना अलग अलग बातें हैं
  2. कवि मीरा,तुलसी,बावजी चतर सिंह जी थे
  3. साठ वर्ष में अक्ल आने लगती है
  4. जब अक्ल आने लगती है तब हिम्मत साठ छोड़ने लगती है 
  5. मैं एक मानित कवि हूँ.बहुत गलतफहमी नहीं पालता हूँ की मैं बहुत बड़ा कवि हूँ
  6. गलतफहमी तब दूर होती है जब हम अपने से श्रेष्ठ कवियों को पढ़ते हैं
  7. कविता  लिखना किसी औपचारिक प्रक्षिक्षण की मांग नहीं करता हूँ.
  8. हिन्दी मेरी रोजी रोटी रही है. पर संस्कृत से मेरी हिन्दी और भी समृद्ध हुई है.
  9. दुनिया पेदाने रहे,किताबें सिरहाने रहे 
  10. अच्छे अध्येता और प्राध्यापक होने के लिए अंगरेजी का ज्ञान ज़रूरी नहीं.
  11. रुपैया,राजनीति और मज़हब तीनों से नफ़रत है
  12. 'लोक' सब चीजों की माँ है.लोक कभी धोका नहीं देगा.लोक ही वरेण्य है 
  13. ब्याव मायरे के गीत और वेदों के सूत्र में कोई अंतर नहीं है.
  14. माला पहनना और मंच पर बैठना ये मेरे लिए तकफिल देह है.............


 


डा. सत्यनारायण व्यास,जिनकी पहचान ख़ास तौर पर आलोचक और कवि के रूप में रही है.मूल रूप से राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में हमीरगढ़ के वासी पिछले कई सालों से चित्तौड़गढ़ में रहते हैं.जीवनभर में तेरह नौकरिया की.घुमक्कड़ी का पूरा आनंद.कोलेज शिक्षा से हिंदी प्राध्यापक पद से सेवानिवृत.आचार्य हजारी प्रसाद द्विबेदी पर पीएच.डी.,दो कविता संग्रह,एक प्रबंध काव्य,पीएच.दी. शोध पुस्तक रूप में प्रकाशित है.इसके अलावा कई पांडुलिपियाँ छपने की प्रतीक्षा में.कई विद्यार्थियों के शोध प्रशिक्षक रहे.


अपनी बेबाक टिप्पणियों और सदैव व्यवस्था विरोध के लिए जाने जाते हैं.कई सेमिनारों में पढ़े/सुने गए हैं.आकाशवाणी से लगातार प्रसारित हुए हैं.उनकी मुख्य कविताओं में शंकराचार्य का माँ से संवाद, कथा हमारे उस घर की सीता की अग्नि परीक्षा हैं.


उनका संपर्क पता 29,नीलकंठ कालोनी, मोबाइल- 09461392200 चित्तौड़गढ़, राजस्थान उनका ब्लॉग लिंक है  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here