डॉ सदाशिव श्रोत्रिय के संस्मरणों में स्वयं प्रकाश - अपनी माटी ई-पत्रिका

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

डॉ सदाशिव श्रोत्रिय के संस्मरणों में स्वयं प्रकाश

                          यह सामग्री पहली बार में ही 'अपनी माटी डॉट कॉम' पर ही प्रकाशित हो रही है।
 ये संस्मरण चित्तौड़ में एक राष्ट्रीय सेमीनार में सदाशिव जी ने सुनाये थे।जो कथाकार स्वयं प्रकाश से जुडी बहुत सी नयी जानकारियाँ देता है।


डॉ.सदाशिव श्रोत्रिय
स्पिक मैके,राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य रहे  हैं।
डॉ. श्रोत्रिय हिंदी और अंग्रेजी में समान रूप से लिखने वाले लेखक हैं
निबंध संग्रह 'मूल्य संक्रमण के दौर में' से चर्चा में रहे हैं
नई हवेली,नाथद्वारा,राजस्थान,
मो.08290479063,02953-230512
ई-मेल-sadashivshrotriya1941@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here