छायाँकन:इरा टाक,जयपुर - अपनी माटी ई-पत्रिका

चित्तौड़गढ़,राजस्थान से प्रकाशित त्रैमासिक साहित्यिक पत्रिका('ISSN 2322-0724 Apni Maati')

नवीनतम रचना

छायाँकन:इरा टाक,जयपुर

साहित्य और संस्कृति की मासिक ई-पत्रिका            'अपनी माटी' (ISSN 2322-0724 Apni Maati )                 फरवरी-2014 

इरा टाक मूल रूप से जयपुर ,राजस्थान की युवा चित्रकार हैं जो इस क्षेत्र में सन दो हजार ग्यारह से ही सफलताओं की तरफ तेज़ी से बढ़ रही हैं।चित्रकारी के साथ ही कभी-कभार कविता भी करती रही है।अपने चित्रों में वे खुद को प्रकृति के बहुत करीब पाती है।इनके कलेक्शन में अमूर्त चित्रों की भी खासी संख्या शामिल हैं।बोधि प्रकाशन से 'मेरे प्रिय' नामक एक काव्य संग्रह भी आया है।विज्ञान के साथ पत्रकारिता और इतिहास भी पढ़ा है।फिलहाल स्वतंत्र लेखन और चित्रण के काम में संलग्न है।कई सम्मान,कई प्रदर्शनियों में शिरकत की है।पूरा परिचय यहाँ

इरा की बनायी पेंटिंग्स में से कुछ चयन
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Print Friendly and PDF

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Responsive Ads Here