आगामी अंक/ Call For Papers


============================================================

  1. आगामी सामान्य अंक के लिए आलेख 1-15 February, 2024 के बीच ही लेंगे।
  2. 31 March, 2024  तक  ही स्वीकृति/अस्वीकृति की जानकारी दे सकेंगे इससे पहले नहीं।
  3. March, 2024 अंक हेतु प्राप्त आलेखों पर 31 March, 2024 तक सभी को उत्तर देने का पूरा प्रयास रहेगा।
  4. अंक 31 March, 2024 की प्रकाशन तिथि में 30 April, 2024 को छपेगा।
  5. सूचना : 'अपनी माटी' त्रैमासिक ई-पत्रिका है इसके प्रत्येक वर्ष में चार सामान्य अंक 31 मार्च, 30 जून, 30 सितम्बर और 31 दिसम्बर को छपते हैं।
  6. ज्यादा जानकारी के लिए पत्रिका की वेबसाईट https://www.apnimaati.com/p/free-advertisement-scheme.html देखिएगा। 
  7. शोध आलेख से जुड़ी हमारी एक नियमावली https://www.apnimaati.com/p/infoapnimaati.htmlहै उसे देखकर ही आलेख भेजें ताकि प्रकाशित होने के अवसर बढ़ सकें। 
  8. सम्पर्क Only Watts App @ 9001092806 (Jitendra)।
                           ============================================================

हमारे कॉलम के लिए आपकी रचनाओं का स्वागत है
  1. 'केम्पस के किस्से' : 'अपनी माटी' ई-पत्रिका के इस कॉलम में यदि आप में से कोई युवा साथी जो देश की विभिन्न यूनिवर्सिटी में से किसी में वर्तमान में पढ़ता हो या कभी पढ़े हो और जो वहाँ के कल्चर को आत्मकथात्मक शैली में खुलकर लिखना चाहता हो। उनका स्वागत है। कथेतर गद्य को प्राथमिकता देने के क्रम में युवाओं को मौका देना हमारा ख़ास मकसद है। यदि आपके मिलने वालों में कोई इस तरह के विषय को भाषा में गूंथ सकता है तो सम्पर्क करने को कहिएगा। यहाँ न्यूनतम लगभग तीन हज़ार की शब्द-सीमा में अपनी रचना भेजनी होगी जो यूनिकोड फॉण्ट में हो। अपने किस्सों के साथ चयनित पांच चित्र भी भेज सकें तो बेहतर रहेगा। यहाँ आप अपने अध्ययन, अध्यापन, गुरु-विद्यार्थी सम्बन्ध, होस्टल लाइफ, गपबाजी, उत्सव, आयोजन, वैचारिकी आन्दोलन, केंटिन की अड्डेबाजी, बातों के रतजगे आदि को केंद्र में रखकर लिख सकते हैं। साथ ही यहाँ से दुनिया आपको कैसी दिखती है और यहाँ आने से पहले दुनिया कैसी थी, को भी लिखा जा सकता है। डूबकर लिखना है और भरपूर आत्मीय होकर ही लिखा जाए तो बेहतर रहेगा। सार्थक संवाद की आस में आपके लेखन का इंतज़ार शुरू हो चुका है। apnimaati.com@gmail.com पर ई-मेल कीजिएगा। लिखने से पहले एक बार आप अपना परिचय देते हुए प्रस्ताव भेज सकें तो ठीक रहेगा कि आप क्या लिखने जा रहे हैं। 'Team@अपनी माटी'
  2. पुस्तक समीक्षा : इसी वर्ष छपी किसी चर्चित पुस्तक की समीक्षा जो लिखना चाहते हैं पहले संपादक से सम्पर्क करके चुनें फिर ही लिखिएगा.
  3. अध्यापक होने का धर्म : अध्यापन के अनुभवों पर आत्मकथ्य कोई भी अध्यापक या प्रोफेसर लिख सकते हैं.
================================================